पूरा नाममोहम्मद आमिर हुसैन खान
जन्म 14 मार्च 1965 बंबई, महाराष्ट्र
माताज़ीनत हुसैन
पिताताहिर हुसैन
शिक्षाबॉम्बे स्कॉटिश स्कूल, माहिम
राष्ट्रीयताभारतीय
सम्मानपद्म श्री,पद्म भूषण
पत्नीकिरण राव
बच्चेजुनैद खान,इरा खान,आजाद राव खान
व्यवसायएक्टर,प्रोडूसर,सिंगर,डायरेक्टर ,राइटर,
वेबसाइटhttp://akpfilms.com/
कुलआय150 मिलियन डॉलर

आज हम ऐसे एक्टर के बारे में बताने वाला हु जिनको इन्हें मिस्टर परफेक्टनिस्ट भी कहा जाता है और आपनी मेहनत और लाजवब एक्टिंग के जरिये लोगो की दिलो में एक अलग ही जगह बना ली है। हां तो दोस्तों मै बात कर रहा हु बॉलीवुड इंडस्ट्री पर राज करने वाले एक्टर और फिल्म मेकर मोहम्मद आमिर हुसेन खान के लिए।

जिन्हें की हम इन्हें आम तोर पर आमिर खान के नाम से ही जानते है आमिर खान फिल्म इंडस्ट्री में लगभाग तीस सालो से काम कर रहे है। और वे इस तिस सालो में खुद को बॉलीवुड के सबसे लोकप्रिय और प्रभावसाली अभिनेता के रूप में साबित कर लिया गया है। और इनके फेंस केवल भारत में ही नही बल्कि दुनिया के अलग-अलग देशो में मिल जायेंगे।

और इसलिए कुछ मेग्जिन में आमिर खान को दा बिगेस्ट स्टार इन दा वर्ल्ड जैसे किताब में इन्हें दे रखा है। हलाकि आमिर खान की एक्टिंग और शानदार फिल्म को तो हम सब जानते है लेकिन आज मै इस ब्लॉग में हम उनकी लाइफ कि जरनी को शुरु से जानने की कोशिस करते है।

तो दोस्तों इस कहानी की शुरुवत होती है 14 मार्च 1965 से जब सपनो के शहर कहे जाने वाले मुंबई में आमिर खान का जन्म हुआ। पिताजी का नाम ताहिर हुसेन है जो की वे आपने समय के फिल्म प्रोडूसर थे। और उनकी माँ का नाम जीनत हुसेन है इसके आलावा आमिर के घर में एक भाई और दो बहने भी है।

इनके भाई का नाम फेजल खान और बहनों का नाम फरहत खान,निकत खान है और इन भाई बहनों में आमिर सबसे बड़े है और न दोस्त केवल आमिर के पिता बल्कि उनके बहुत ही रिस्तेदार भी इंडस्ट्री से ही जुड़े हुए थे। और शायद इसी वजह से आमिर खान शुरु से फिल्मो में लगाव हो गया था।

और महज आठ साल की उम्र में “यादो की बारात” नाम से आमिर खान ने बतोर चाइल्ड एक्टर आपनी एक्टिंग से शुरुवत की और सन 1973 में पिता जी की फिल्म “मदहोश” में भी छोटा सा रोल करते नजर आये थे। हलाकि आपनी एक्टिंग के साथ-साथ उन्होंने अपनी शुरुवती पढाई जीबी पेटिट स्कूल से और फिर आगे चलकर सेंट एन्स हाई स्कूल से, आगे बॉम्बे स्काटिस स्कूल तक और नरसी मोंजी कॉलेज से बारहवी तक की पढाई पूरी की।
उसके आलावा आमिर खान खेल कूद में दिलचस्पी रखते और टेनिस लेवल चेम्पियनशिप भी आपने नाम किए। हलाकि आमिर खान के घर वालो का सपना था की आमिर खान फिल्मो में काम न करके डॉक्टर या फिर इंजिनियर बने लेकिन आमिर को तो शुरु से एक्टिंग पसंद थी।

और इसलिए वह आपने फेसन को इगनोरे नहीं कर सकते हलाकि आमिर खान के मा ने तो उनके बचपन का कुछ समय बहुत ही काठीनइयो में बिता था। लेकिन यह बात आप पढ़कर सवाल तो आया ही होगा की बॉलीवुड इंडस्ट्री से जुड़े होने की वाबजूद पैसो की कमी कैसे हो सकती है। लेकिन बता दे की उनके पिता ताहिर हुसेन की फिल्मे उस समय बहुत ही बुरे तरह से फ्लॉप होते जा रहे थी।

और ऐसे में उनके उपर बहुत सारे क़र्ज़ ही गए थे साथ ही आमिर बताते है की जब उनके पिता के पास क़र्ज़ लेने वाले लोग अपने पैसा वसूलने के लिए दिन में कई-कई बार फ़ोन करते थे। हलाकि आमिर खान का मानना है की परेसनिया व्यक्ति के अन्दर टेलेंट को निखरने में मदद करता है।

और इसलिए परेसनियो से न घबराकर परिस्थितियों को डट कर सामना किया इन्होने फिर आगे चलकर आमिर खान जब सोलह साल के थे तब उन्हें आपने स्कूल के दोस्तों के साथ “परानोइया” नाम का शोर्ट फिल्म में काम किया। जो की उन्होंने गुप्त रूप से आपनी मामी-पापा से छुपकर बनाया था जैसे की मैंने पहले भी बताया है की उन्हें आमिर के परिवार फिल्म से दूर रखना चाहते थे।

लेकिन आपने टेलेंट से ज्यादा दिन तक दूर नहीं भाग सकता और जल्द ही उन्होंने एक्टिंग आपना करियर बनाने का फेसला ले लिया। और फिर आगे चलकर आपनी एक्टिंग स्किल्स को बढाने के लिए आमिर खान ने “अवांतर” नाम का थिएटर ग्रुप ज्वाइन किया। साथ ही उनके नासिर हुसेन की फिल्म “मंजिल” और “जबरदस्त” में बतोर असिस्टेंट डायरेक्टर के रूप में काम किया।

और इस डायरेक्टर खेतना मेहता ने आमिर खान को एक डोकुमेनट्री फिल्म में काम करते हुए नोटिस किया और आपनी फिल्म “होली” में काम दिलाया और इस तरह से होली फिल्म आमिर खान की डेब्यू फिल्म भी बनी। हलाकि यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर बहुत ही बुरी तरह से पिट गयी और आमिर का एक्टिंग भी सही तरह से नहीं था।
जाने:अक्षय कुमार का जीवन परिचय

लेकिन 1988 में नासिर हुसेन के लड़के आपने डोकुमेनट्री डेब्यू फिल्म “क़यामत से कयामत तक” में आमिर खान को साइन किया। जिसमे आमिर खान बतोर लीड एक्टर पहली बार काम कर रहे और यह फिल्म रिलीज होने के बाद काफी सफल रही और यही से लोग आमिर के टेलेंट को पहचानने लगे। और इस फिल्म में सात फिल्म फेयर आवार्ड जीते,जिसमे आमिर खान का बेस्ट मेल डेब्यू ट्रोफी भी शामिल हुआ। और फिर आगले साल 1989 में आमिर खान “राख” नाम का फिल्म में काम किया और इस फिल्म में भी लोगो ने खूब सराहा।

और फिर क़यामत से क़यामत तक,राख दोनों फिल्म में शानदार एक्टिंग को देखते हुए उन्हें नेशनल फिल्म आवार्ड से सम्मनित किया गया। और फिर यहाँ से आमिर खान ने आने करियर में कभी भी पीछे मुड़कर नहीं देखा और एक दो फिल्मो के आलावा लगभाग उनकी सभी फिल्मे सुपर हिट रही।

जो जीता वाही सिकंदर,अंदाज आपना आपना,रजा हिन्दुस्तानी,लगन,दिल चाहता है,रंग दे बसंती,तारे जमी पर,3 इडियट्स,पीके,दंगल,स्क्रेट सुपरस्टार की तरह ही सरे हिट फिल्मे में काम किया है। और इनमे लगन को अकैडमी आवार्ड के लिए नोमिनेट किया गया था। और 3 इडियट्स,पीके और दंगल बॉक्स ऑफिस पर नए रिकॉर्ड बनाने में भी कामयाब हो गयी थी।

और आमिर खान की पर्सनल लाइफ की बात करे तो उन्हें 1996 में हिना दत्ता लड़की के साथ शादी कर लिया जिससे की उनसे एक लड़का और एक लड़की है। लेकिन हिना के साथ उनका सन 2000 में तलाक हो गया था और फिर 2005 में किरण राव के साथ शादी कर ली। तो दोस्तों यही कहना चाहता हु की आमिर खान आपने करियर के उचइयो पर विराजमान है। वो सब उनकी मेहनत का नतीजा है उम्मीद करता हु की आमिर खान का ये स्टोरी जरुर पसंद आया होगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here