Home हेल्थ केयर भारत में आईवीएफ में बच्चा लड़का होने की संभावना कितना है?

भारत में आईवीएफ में बच्चा लड़का होने की संभावना कितना है?

भारत में आईवीएफ से लड़का होने की संभावना: बात करे भारत मे आईवीएफ के द्वारा लड़का ही पैदा होगा तो ये बिल्कुल गलत है। अभी तक भारत मे कोई भी ऐसा तकनीक मौजूद नहीं है जिससे लैब मे डालने के बाद ये पता लगाया जा सके की ये भ्रूण लड़का का ही है।

यह एक तरह का अफवाह है की जो दूर दूर तक लोगो की कनो तक फैला हुआ है। ओर जो भी लोग इसके बारे मे सोचते है की आईवीएफ से लड़का हो जाएगा तो ये चीज बिल्कुल आप अपने दिमाग से निकल दे।

जिसको भी आजकल के समय मे लड़का या फिर लड़की हो रहे है तो यह वैसे ही हो रहे है जैसे की नॉर्मल लाइफ मे  किसी कपल के कभी लड़का पैदा हो जाता है तो कभी लड़की पैदा हो जाती है।

ऐसा भारत मे अभी तक कोई भी साईंटिफ़िक तकनीक नहीं है जिससे की आपके अनुसार लड़का ही पैदा हो। आईवीएफ उन कपल के लिए है जिनके एक भी संतान नहीं हो रहे है तो उस स्थिति मे उसको कोई भी संतान चाहिए।

आजकल के समय मे साइन्स बहुत एडवांस हो गयी है जिससे की हेल्दी ओर अनहेल्दी बेबीज को स्क्रीन कर सकते है। लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं है जिससे की सेक्स का चयन कर सकते है।

विदेशो मे कुछ लेबो मे ये सब के बारे मे रिसर्च होता रहता है ओर वह पर पता लगाया जा सकते है। लेकिन भारत मे ऐसी तकनीक नहीं है ओर ये चीज भारत मे गैर कानूनी भी है।

जिसके वजह से भारत मे बहुत से मरीज इसके शिकार होते जा रहे है ओर भारत के कुछ हॉस्पिटल मे झूठ बताकर बोल दिया जाता है की आपका बच्चा आपके अनुसार ही पैदा होगा। ओर अच्छे खासे आपसे रकम की डिमांड भी करते है।

ओर मरीजो से ये बात छुपाकर रखते है की आपका बच्चा लड़का ही होगा। जो भी आपसे रकम का डिमांड किया है उसको भी ये चीज मालूम नहीं होता है की आपका बच्चा लड़का होगा या फिर लड़की।

इस तरह के अफवाहों से मरीजो को हमेशा दूर ही रहना चाहिए ताकि आपको लड़का के लालच मे आप अपना पैसा को बर्बाद न कर दे।

ये सारा चीज अगर किसी भी पुलिस को पता चल जाता है तो उस स्थिति मे जो भी आपसे रकम लिए है उसको पुलिस हिरासत मे ले सकती है ओर साथ ही साथ हॉस्पिटल का लाइसेंस रद्द भी करवा सकती है। तो बेहतर है की हमेशा इस तरह के अफवाह से हमेशा दूर रहे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here