Advertisement
Homeबायोग्राफीदिशा-वकानी की जीवनी | Disha Vakani Biography In Hindi
Advertisement

Related Posts

Advertisement

दिशा-वकानी की जीवनी | Disha Vakani Biography In Hindi

दोस्तों आज मै बात करने जा रहा हु सब टीबी के प्रशिद्ध कॉमेडी सीरियल तारक मेहता का उल्टा चश्मा में दया बेन का किरदार निभाने वाली दिशा वकानी की जो करीब नो सालो से इस शो के पहचान बनी हुई है।

दोस्तों आगर हमारे देश में ऐसा सीरियल है जिसे बच्चे बूढ़े या फिर जवान सभी उम्र के लोग के साथ बैठकर देखना पसंद करते है तो वो है तारक मेहता का उल्टा चश्मा।

और इस सीरियल में दया बेन के एक्टिंग और बोलने का स्टाइल में चार चाँद लगाने के लिए काफी है। इसके आलावा इनका अजीबो गरीब गरवा की तो जितना तारीफ की जय उतनी कम है।

तो चलिए दोस्तों बिना आपका ज्यदा समय लिए हम दिशा वकानी उर्फ दया बेन की स्टोरी को शुरू से जानते है।

दया का जन्म 17 सितम्बर 1978 को गुजरात के महाराष्ट्र के अहमदाबाद में हुआ था। इनके पिता का नाम भीम वकानी है जो की छोटी सी थिएटर में कंपनी चलाते थे।

इसके आलावा ये लोकल स्कूल में ड्राइंग में ड्राइंग के टीचर भी थे। अब जो की फेमली बेकग्राउंड में थिएटर से ही था दया को भी ड्रामा का शोक बचपन से ही हो गया।

दया बताती है की मेरे पिता एक थिएटर कंपनी चलाते थे जहा वो नाटको में पार्टिसिपेट करने वाली अभिनेत्रियों के लिए हमेशा परेशान रहती थी।

क्योंकि इन दिनों तक गुजरती लडकिया का थिएटर में आने का बिलकुल भी चलन नहीं था। इसलिए पापा के परेशानियों के देखते हुए मैंने भी निश्चय किया।

की बड़ी होकर अपनी पिता के थिएटर में काम करुँगी। अगर दया की पढाई की बात करे तो इन्होने शुरुवाती पढाई सिद्धार्थ स्कूल से की।

और फिर गुजरात कॉलेज अहमदाबाद से इन्होने ड्रामेटिक आर्ट में डिप्लोमा किया। डिप्लोमा की डिग्री लेने के बाद इन्होने अपने पिता के थिएटर में काम करना शुरू कर दिया।

दया के भाई मयूर वकानी बताते है की दया के अन्दर ओवजर्वेशन पॉवर गजब की है। वे तुरंत ही किसी को कॉपी कर सकती है।

और दोस्तों एक इंटरेस्टिंग बात बताऊ की मयूर वकानी दया के भाई है जो तारक मेहता में उनके छोटे भाई सुन्दर का किरदार निभाते है।

दया ने आगे चलकर लाली लीला और कमल पटेल संग धमाल पटेल जैसे कुछ प्रसिद्ध गुजरती प्ले में भी काम किया। और गुजरती प्ले में लोकप्रिय होने के बाद दया ने फ़िल्मी दुनिया में भी आपने आप को अजमाने का सोचा।

और फिर 1997 में इन्होने एक बी ग्रेड की फिल्म कमशिम द अनटाचड में भी काम किया। इसके बाद 1999 में इन्हें एक लो बजट फिल्म फूल और आग में भी देखा गया।

इसके आलावा 2002 में देवदश 2015 में मंगल पण्डे और 2008 में जोधा अकबर जैसे हिट फिल्म में भी काम किया।

और शायद आपको याद है की वो जोधा अकबर में जोधा की दोस्त माधवी बनी थी। दोस्तों अब तक दया ने अभी तक बहुत सारे फिल्मो में छोटे मोटे रोले किए।

लेकिन किश्मत को तो और ही मंजूर था साल 2008 में एक दिन इनकी एक सहेली ने बताया की प्रोडक्शन हाउस मिला टेली फिल्म्स तारक मेहता का ओडीशान ले रहा है।

दिशा तुरंत वहा पहुच गयी और ऑडिशन में इनका सिलेक्शन भी हो गया। बस यहाँ से तो इनकी किश्मत ही बदल गयी और देखते ही देखते वह आपने किरदार दया जेठा लाल गढ़ा से सभी के बिच लोकप्रिय हो गयी।

तारक मेहता का उल्टा चश्मा में इनके जबरदस्त एक्टिंग के लिए  9वा और 10वा इन्डियन टेली अवार्ड,इन्डियन टेलीविजन अकैडेमी अवार्ड और जी गोल्ड अवार्ड दिया जा चूका है।

आगर दया की पर्सनल लाइफ की बात करे तो इन्होने 24 नवम्बर 2015  को चार्टड अकाउंटेंट मयूर पंड्या के साथ शादी की।       

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Advertisement

Latest Posts

Advertisement