डल्कोफ्लेक्स एक लेक्जाटीव मेडिसिन है यह मुख्य रूप से अगर आपका पेट सही तरह से साफ नहीं हो रहा हो तो इस तरह की समस्या को दूर करने के लिए डल्कोफ्लेक्स टेबलेट का इस्तेमाल करते है।

यह टेबलेट सनोफी इंडिया लिमिटेड फार्मा कंपनी बनाती है और इसके अंदर बिसकॉडील पाया जाता है और यह मार्केट में 5mg,10mg का आता है। और यह आंतों के अन्दर मल में पानी की कमी की वजह से आंतों में मल चिपक जाते है।

और वाही पर रह जाते है और मल धीरे धीरे सूखने लगता है और शरीर से मल को निकलने में बहुत ज्यदा जोर देना पड़ता है। और इस टेबलेट को लेने से अतो में पर पानी को एबजोर्ब  कर मल को ढीला करने का काम करता है।

डल्कोफ्लेक्स टेबलेट का डोज कैसे लेना चाहिए?

अगर आपका उम्र 12 साल से ऊपर का है तो इसका इस्तेमाल 5 से 10mg तक आप ले सकते है रात में सोने से पहले खाना खाने के बाद गुनगुने पानी के साथ ही लेना चाइये। और याद रहे की दूध के साथ इस टेबलेट को कभी भी न ले।

डल्कोफ्लेक्स टेबलेट का उपयोग क्या क्या है?

  • पेट में कब्ज की समस्या को दूर करने के लिए
  • आंतों में मल को निकलने के लिए

डल्कोफ्लेक्स टेबलेट का किसको नहीं लेना चाहिए?

  • सात साल से निचे वाले बच्चो को
  • अगर आप एल्कोहल ले रहे है
  • गर्भवती महिलाओं को
  • पेट में अल्सर से सम्बंधित मरीजो को
  • अपेंडिक्स वाले मरीजो को
  • बहुत ज्यदा डिहाइड्रेशन वाले व्यक्ति को

डल्कोफ्लेक्स टेबलेट का साइड इफ़ेक्ट क्या क्या है?

  • उल्टी आना
  • बार बार पेट में दर्द होना
  • दस्त बार बार आना
  • मल के साथ खून आना
  • मतली की समस्या
  • चक्कर आना

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here