1.जब कोई इन्सान आपको नजर अंदाज करने लगे तो समझ जाओ, तो इस इन्सान को आपकी जरुरत नहीं है

2.मै व्यस्त हु ये कहना तो तुम्हारा बहाना है,वर्ना वक्त देने वाले तो हजार कम होते हुए भी, आपके लिए वकत निकल लेते है।

3.लोगो से कभी भी ज्यदा उम्मीद मत रखा करो, वरना आप तो रोते रहेंगे और लोगो को कोई भी फर्क नहीं पड़ेगा।

4.एक कडाई सच्चाई ये भी है, की जो लोग सबका साथ देते है, लोग अक्सर तनहा रह जाते है।

5.क्या खूब कहा किसी ने, जो जाहिर हो जाये वो दर्द कैसे होता है, और जो दर्द को कभी महसूस ना कर पाए वो हमदर्द कैसा।

6.जिसको भी जीना होता है वो चला जाता है, आपके रोने से उसको कोई फर्क नहीं पड़ता।

7.माफी मांगने का ये मतलब नहीं है की कोन गलत है और कोन सही,माफी मांगने का असली मतलब ये है की हम उस रिश्तो को खोना नहीं चाहते।

8.अकेले रह लेना किसी गलत इन्सान के साथ, रहने से लाख गुना ज्यदा होता है।

9.जाने कितनी रातो की नींद को ले जाते है वो,जो पल भर की मोहब्बत को जताने के लिए हमारे जिंदगी में आते है।

10.मत खोलो मेरी जिंदगी की किताब को,क्योंकि हर शख्स में मेरा दिल को दुखाया है जिस पर मुझे नाज होता है।
11.इतनी शिकायते इतनी शर्ते और इतनी पाबंदिय, लोग मोहब्बत करते है या कोई शोदा करते है।

12.बड़ा ही हसीन वहम है की हम किसी के लिए हम बहुत अहम् है,मोहब्बत इतनी भी हसीन नहीं की जितनी शायर और शायरियो ने सजा राखी है।

13.समान बांध लिया है मैंने अपना, अब बतावो कहा रहते है वे लोग जो कही के भी नहीं रहते। 

14.लापरवाही ही भाली है आजकल, क्योकि अगर परवाह करो तो लूट लेते है लोग।

15.बेशुमार दुखो की शोगत मिलती है उन्हें, जो लोग दिल के साफ हुआ करते है।

16.जो लोग हमारी उदासी की वजय बार बार पुछा करते थे आक उन्हें हमें सीने से भी कोई फर्क नहीं पड़ता।

17.रूठने का हक़ तो सिर्फ अपने ही देते है, प्रयो के सामने तो बस मुस्कुराना पड़ता है।

18.जिंदगी में बहुत कम मिली है वो चीजे, जिन्हें सिददत से चहां है मैंने।

19.वक्त के इस दौर में कितना भूखा था मै,कुछ न मिला तो धोखा ही खा लिया।

20.इतना बुरा भी नहीं था जो छोड़ दिया तूने मुझेम, देख लेना एक दिन तेरे फैसले पर बहुत अफसोस होगा।  
21.मै क्यु पुकारू उसे की लोट आवो वापस, अरे उसे भी तो खबर है की कुछ नहीं मेरे पास उसके सिवा।

22.रोज ख्वाबों में जीता हु वो जिंदगी,जो तेरे साथ कभी मैंने हकीकत में सोची थी।

23.कलयुग की दुनिया है साहब उसकी कदर कभी नहीं होती, जो सच में रिश्तो की कदर करता है कदर उसी की होती है जो सबसे ज्यदा दिखावा करता है।  

24.उस इन्सान पर भरोसा कभी नहीं करना, जो वक्त के साथ अपना स्वभाव बदल देता है।

25.मना रिश्तो क मर जाना बुरा है पर उससे भी बुरा है झूठे रिश्तो को जिन्दा रखना।

26.दर्द को मुस्कुरा कर क्या सिख लिया सबने सोच लिया की मुझे तकलीफ नहीं होती, जो ये कहते है तुम्हे कभी रोने नहीं देंगे अक्सर वाही लोग सबसे ज्यदा रुलाते है। 

27.जिस इन्सान को हमें खोने का ही डर नहीं था, उस इन्सान को हमारे न होने क अफसोस क्या होगा।

28.जन्दगी में सिर्फ दो तरह के लोग ही हमें रुलाते है,एक अपने और दूसरा बहुत ज्यदा आपने।

29.अक्सर उन्ही लोगो को हमारा दर्द और तकलीफ का एहसास नहीं होगा, जो हमें कहते है की तुम्हे तुमसे ज्यदा जानते है।

30.कुछ लोग हमारे दिल में बहुत शोक से अपना घर बना लेते है, लेकिन जब उसमे रहने की बरी आती है तो ठीकाना ही बदल लेते है।
31.आजकल लोग भी आडने की तरह हो गए है, जो सामने आता है उसी के हो जाते है।

32.जिंदगी में एक दिन हमें ये समझ में जरुर आता है की कोन हमारा अपना है और कोन प्रया है,लेकिन जब तक ये समझ में आता है ना तब तक बहुत देर हो जाती है।  

33.सारी दुनिया से झगड़कर तुझपे विश्वास किया था लेकिन आखिर के बही सच निकला जो लोगो ने कहा था।

34.जिस इन्सान को हमें खोने का ही डार नहीं था, उस इन्सान को हमारे ना होने क अफसोस क्या होगा।

35.तुम्हारे रोने से किसी को भी फर्क नहीं पड़ता, और आगर पड़ता तो तुम्हे रोना ही नहीं पड़ता।

36.कुछ लोगो को हम जिंदगी से आजद तो कर देते है, लेकिन कभी माफ नहीं कर पाते।

37.जिनकी खुशी के लिए हम अपनी सारी खुशिया कुर्बान कर देते है हमें रुलाने से पहले एक बार भी नहीं सोचते है।

38.सच तो ये है की लोग बदलते नहीं, बस एक दिन उनके झूठे नकाब उतर जाते है।

39.जब भरोषा ही टूट जाता है, माफी मांगने का कोई मतलब ही नहीं रहता।

40.जब दिल दुःख में और रूह दर्द में लिपटी हो तो दुवाये कमल की निकलती है।
41.वास्तव में हमारे अपने हमें अपने दर्द नहीं देते दर्द वो देते है जिन्हें हम अपना समझने की भूल कर बेठते है।

42.ये शक है जनाब यहाँ इन्सान निखरता भी कमल का है, और बिखरता भी कमल का है।

43.ये वक्त भी एक तराजू की तरह है, जो बुरे वक्त में आपनो का और प्रयो क वजन बता देता है।

44.जो आपका है वो आपको देखकर कभी बीजी नहीं हो सकता, आपको देखकर बीजी हो जाये आपका कभी नहीं हो सकता।

45.मना कर अपना फिर कुछ दिनों में बेगाना कर देते है, और भर जाता है जब लोगो का दिल वो मज़बूरी का बहाना कर देते है।

46.जिनके लिए हम अवसर उदास उदास रहते है, उनके लिए हम कुछ मायने ही नहीं रखते।

47.ये जो मेरे हालत है एक न एक दिन सुधार पाएंगे, लेकिन तब तक कई लोग मेरी नजरो से उतर जायेंगे।

48.किसी पर जरुरत से कम विश्वाश करो तो वो बुरा मन सकता हैम, लेकिन किसी पर जरुरत से ज्यदा विश्वाश करो तो वो बहुत बुरा कर सकता है।

49.जब तक जिंदगी में ठोकर न लगे, तब तक हर इन्सान को आपने फैसले पर गुरुर होता है।

50.ना रख किसी से मोहब्बत की उम्मीद, क्योंकि लोग खुबसूरत तो है लेकिन वफादार नहीं।
51.चले जाना तेरा फैसला था और माफी मेरी मोहब्बत, यानि मेरी गलती थी और झूठ तेरी फिदरत।

52.किसी को शक करने से पहले एक बार ये जरुर देख लेना, की उसके रंग कितने है।

53.प्राण निकल जाने के बाद शारीर शमसान में जलता है रिश्तो में प्रेम चला जाये तो इन्सान मन ही मन सारी जिंदगी जलता है।  

54.ये सच है की रिश्तो का टूटना कभी अच्छा नहीं होता, लेकिन उस वहम का टूटना बहुत अच्छा होता है की जिसे आपने अपना मन था की वो आपका अपना था ही नहीं।

55.उन लोगो का रिश्ता कभी नहीं टूटता, जो अपनी इगो को नही अपने प्यार को वेल्यु देते है।

56.रिश्तो को निभाना या रिश्तो को तोडना तो बस नियत की बात होती है, मजबूरिया तो बस बहाना होती है।

57.कमाँल की बात है न जिसे हम सबसे ज्यदा चाहते है, दर्द भी हम उसी से पाते है। 

58.कभी झूठी हमदर्दी नहीं दिया किसी को, जिसके लिए कुछ भी करते है दिल से करते है।

59.मै क्या जानु दर्द की कीमत क्या होती है क्योंकि मेरे आपने मुझे मुफ्त में दे देते है।

60.मुश्किल वक्त की सबसे अच्छी बात ये होती है हमें पता चल जाता है, की किसको हमारी कितनी फिकर है।
61.उसे अपना समझने से क्या फायदा जिसे आपका कोई अपमान ही ना हो, जब तक किसी अपने से धोखा न मिले तब तक समझ ही नहीं आता की ये जिंदगी क्या है।

62.जिंदगी में कभी किसी को इतना हक़ मत दे देना, की वो फैसला करे की आप को कब हँसना है कब रोना है।

63.गलत वो नहीं होते जो हमें धोखा देते है, गलत हम होते है जो उहे मोका देते है।

64.हम वो है जो आंखे में आंखे डालकर सच को जन लेते है।

65.तुझसे मोहब्बत है, बस इसलिए मेरे झूठ भी सच मन लेते है।

66.जैसे जैसे ये दिन गुजरते जा रहे है, वैसे वैसे कुछ लोग हमारे दिल से उतारते जा रहे है।

67.जंग मोहब्बत से बेहतर है क्योंकि जंग के आखिर में या तो तुम जिन्दा रहते हो या मर जाते हो, लेकिन मोहब्बत के आखिर में ना तुम जिन्दा रहते हो ना मर पते हो।

68.आगर जिंदगी में कुछ बुरा वक्त ना आये, तो हम अपनों में प्रयो और प्रयो में अपने कभी पहचान ही नहीं पाए।

69.उस शख्स को कोई नहीं बदल सकता, जिस शख्स को खुद की गलती नजर ही ना आती हो।

70.मोहब्बत में सिर्फ हम उनसे हरे है, जो कहते थे जी हम सिर्फ तुम्हारे है।
71.मोहब्बत पहले अंधी हुआ करती थी तो कुछ नहीं देखती थी लेकिन अब उसकी आंखे ठीक हो चुकीं है अब मोहब्बत शक्ल भी देखती है और बैंक बलेंस भी।

72.कडवा है मगर सच है, आगर किसी का हाथ थामो तो जिंदगी भर साथ देना कुछ पालो के साथी तो जनाजे में भी मिल जाते है।

73.इज्जत बहुत महगी चीज है, इसलिए इसकी उम्मीद घटिया लोगो से बिलकुल मत करना।

74.अक्सर लोग कहते है जरा सी बात पर रिश्ता टूट गया वैसे उस जरा सी बात की पीछे बहुत बड़ी बात होती है, और वो जरा सी बात दराअसल बर्दास्त की आखरी हद होती है।

75.कभी उसको नजर अंदाज मत करना जो दुनिया में सबसे ज्यदा तुम्हारी परवाह करता है, नहीं तो एक दिन आपको एहसास होगा की पथारो को जमा करते करते तुम हिरा गवा दिया।

76.एक सच्चे हमसफर को किसी और चीजो की जरुरत नहीं, होती सिवाय आपके वक्त और इज्जत के।

77.एक बात हमेशा याद रखना जिंदगी में जिसे आप हद से ज्यदा वेल्यु दोगे, वाही इन्सान आपको हद से ज्यदा दर्द देगा।

78.बुरे वक्त में एक अच्छाई होती है, वाही बता देता है कोन अपना है और कोन प्राय।

79.भीड़ में खड़े रहना बहुत आसन होता है, लेकिन अकेले में खड़े रहने के लिए बहुत हिम्मत चाहिए।

80.आपकी गलतिया ही आपकी आच्छी शीछक है इसलिए गलतियों से कभी न घबराये, सुनना सिख लो तो सहना सिख जाओगे और सहना सिख लो तो रहना सिख जाओगे।
81.जिंदगी इतनी भी मुश्किल नहीं है जितना हम समझ लेते है, बस कुछ बाते अगर नजर अंदाज करना सिख ले तो जिंदगी आसन हो जाती है।

82.कुछ रिश्ते टूट जाते है पर ख़त्म नहीं होते क्रोध आने पर चिलाने के लिए ताकत नहीं चाहिए ,लेकिन क्रोध आने पर चुप रहने के लिए बहुत ताकत चाहिए।

83.मुशिबतो और इछाये कभी ख़त्म नहीं होती, जिंदगी भर एक के बाद एक लगी रहती है।

84.जो आपकी जिंदगी से जाना चाहता है न, उसे रास्ता दिया करो रुकने का वास्ता वास्ता नहीं।

85.किसी को कुछ देने के लिए हेसियत नहीं, नियत होनी चाहिए।

86.जहा आपने भी साथ छोड़कर चले जातें है, वहा खुद को अपने साथ देखा है।

87.या तो बहाने बना लो या तो अपने सपनो को पूरा करने के लिए आप दाम लगा लो, जिदगी भर याद रहता है मुश्किल में साथ देने वाला भी और मुश्किल में साथ छोड़ने वाला भी।

88.आप बस अपने इरादे मजबूत रखिये, दुनिया क्या सोचती है इससे कोई फर्क नहीं पड़ता।

89.एक बात याद रखना आजकल लोग वफादार कम, और अदाकार ज्यदा हो गए है।

90.जिंदगी में कभी ऐसा आदत मत लगाना, जो आपकी कमजोरी बन जाये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here