Advertisement
Homeबायोग्राफीऋतिक रोशन की जीवनी | Hrithik Roshan Biography In Hindi

Related Posts

Advertisement

ऋतिक रोशन की जीवनी | Hrithik Roshan Biography In Hindi

दोस्तों हुनर एक ऐसा बेस कीमती गहना है जिसे पैसो से खरीद पाना तो मुमकिन नहीं है लेकिन हां आगर कठीन परिश्रम से इसे हासिल करने के कोशिस करे तो कामयाबी बेसक पाई जा सकती है।

वैसे आगर बात की जय तो बॉलीवुड की तो इस चकाचोंध से भरी इस दुनिया में भी हुनर की हुकूमत देखने को मिलती है।

क्योंकि दोस्तों देखा गया है की बहुत सारे स्टार्स ने आपने बच्चो को इस इंडस्ट्री में लांच किया लेकिन सभी का सिक्का यहाँ पर नहीं चल पाया।

और आखिरकार वो फ्लॉप साबित हो पाए लेकिन इसके विपरीत कुछ ऐसा भी स्टार किड्स इस इंडस्ट्री में आये जिनके बेहतरीन अदाकारी को देखकर लोगो ने इन्हें सुपरस्टार का दर्जा दे दिया।

और ऐसे ही सुपरहिट कलाकारों में से एक नाम सामने आता है ऋतिक रोशन का। जिनकी लोकप्रियता केवल भारत में ही नहीं बल्कि विश्व स्तर पर इसकी एक्टिंग और डांसिंग को पसंद किया जाता है।

तो चलिए दोस्तों आज इस ब्लॉग में हम ऋतिक रोशन की इस पूरी लाइफ स्टोरी को जानते है। की किस तरह से आपने लाइफ में कई गंभीर परेशानियों का सामना करने के बाद यह एक सफल अभिनेता बनने में कामयाब रहे।

तो दोस्तों इस कहानी की शुरुवात होती है 10 जनवरी 1974 से जब मुंबई के एक पंजाबी परिवार में ऋतिक राकेश नागरथ उर्फ़ गुड्डू का जन्म हुआ।

और इनके पिता का नाम राकेश रोशन है जो की एक जाने मने डायरेक्टर और प्रोडूसर है। इनकी माँ का नाम पिंकी रोशन है।

इसके आलावा ऋतिक के परिवार में दादा और नाना भी फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े हुए थे। और इस इंडस्ट्री में इनके दादा रोशन लाल नागरथ एक महान संगीतकार वही इनके नाना जय ओम प्रकाश एक डायरेक्टर थे।

और दोस्तों जय और प्रकाश यानि की ऋतिक के नाना ऋतिक रोशन को बहुत ही भाग्यशाली मानते थे। इसके वजह से वह हरेक फिल्म में ऋतिक रोशन का बहुत छोटा ही सही लेकिन एक शीन जरुर शूट किया करते थे।

और इस तरह से ऋतिक रोशन पहली बार छ: साल की उम्र में अपने नाना की फिल्म आशा में एक बतोर बल कलाकार सामने आये।

हलाकि यह पर शीन शूट करते समय ऋतिक रोशन को पता भी नहीं चला था की इनके नाना ने रेंडमली इनके डांस करते समय इनका वीडियो बनवा दिया था। और फिर इस फिल्म के लिए ऋतिक को 100रु मेहताना में लिया गया।

और फिर आगे चलकर 12 साल की उम्र में ऋतिक रोशन को नाना के ही फिल्म भगवान दादा के डायलोग बोलने का मोका भी मिला। हलाकि दोस्तों ऋतिक के दाये हाथ में छ: उंगलिया होने की वजह से इनके साथ इनके साथ दोस्त इन्हें चिढहते रहते थे।

साथ ही इन्हें छोटी उम्र में ही इनके सामने बोलते समय हकलाने की भी परेशानी आई। और इस प्रॉब्लम की वजह से वह बच्चो के साथ अच्छे से घुल मिल नहीं पते थे।

और इसलिए ऋतिक रोशन स्कूल जाने में आनाकानी करते। हलाकि आगे चलकर स्पीच थेरेपी की वजह से ऋतिक रोशन का हकलाने वाले प्रॉब्लम से छुटकारा मिल गयी।

और दोस्तों नाना जी की फिल्मे में छोटे मोटे रोल करने के दोरान ऋतिक ने एक सफल एक्टर बनने का सपना देख लिया।

लेकिन दूसरी और इनके पिता चाहते थे की वह अब सिर्फ पढाई पर ही धयान दे। लेकिन 20 साल के उम्र में एक बार फिर से ऋतिक के सामने और एक बड़ी परेशानी तब आई जब इन्हें कोलियोसिस नाम की गंभीर बीमारी ने इन्हें घेर लिया।

और इस बीमारी की वजह से रीढ़ की हड्डी में परेशानी आई साथ ही डॉक्टर्स ने भी इन्हें स्टंट और डांस न करने की सलाह दे डाली।

लेकिन इसके बावजूद भी वह इस परेशानी को इग्नोर नहीं कर सके और फिर आगे चलकर इन्होने आपने कॉलेज की पढाई साइडेन्हेम कॉलेज ऑफ कॉमर्स एन्ड इकोनॉमिक्स से की।

और पढाई पूरी हो जाने के बाद से ये फिल्म इंडस्ट्री में आने का फैसला किया। और शुरुवाती कुछ साल में वे आपने पिता के साथ एक असिस्टेंट डायरेक्टर के तोर पर काम करते रहे।

इन्होने 1987 की फिल्म खुद्गार्स,1993 की फिल्म अंकल, 1995 में कारण अर्जुन और 1997 की कोयला जैसे फिल्मो में असिस्टेंट डायरेक्टर के तोर पर काम किया।

और यहाँ पर काम करने के दोरान इन्होने एक्टिंग काफी नजदीक से जन लिया था। साथ ही इसी दोरान किशोरे नामित कपूर से एक्टिंग की भी क्लास की।

और फिर आखिरकार साल 2000 में ऋतिक रोशन ने पहली फिल्म करियर की शुरुवात कहो न प्यार फिल्म से की।

हलाकि भले ही इस फिल्म की ऋतिक के पिता ही डायरेक्टर थे लेकिन ऋतिक रोशन को यह काम इतनी आसानी से नहीं मिली थी। दरशल राकेश रोशन इस फिल्म में शाहरुख खान को लीड एक्टर के  तोर पर रखना चाहते थे।

लेकिन शाहरुख़ खान को इस फिल्म की स्क्रिप्ट कुछ खास पसंद नहीं आयी। और फिर इस फिल्म में काम करने से साफ इंकार कर दिया।

और जब राकेश रोशन को कुछ भी समझ नहीं आया तब इन्होने इसी फिल्म से ही ऋतिक रोशन को अजमाने क सोचा।

लेकिन ऋतिक रोशन आपने इस पहले ही फिल्म में बेहतरीन डांस और जबरदस्त एक्टिंग से लोगो के दिलो में छा गए। और इस फिल्म के लिए इन्हें फिल्म फेयर अवार्ड्स,आइफा अवार्ड,जी सिनेमा अवार्ड्स का बेस्ट मेल डेब्यू और बेस्ट एक्टर अवार्ड से भी नवाजा गया।

और फिर आपने पहले ही सफल फिल्म के बाद से ऋतिक ने फिजा,मिशन कश्मीर,कभी खुसी कभी गम, कोई मिल गया, क्रिश, जोधा अकबर, धूम, गुजारिश, अग्निपथ, जिंदगी न मिलेगी दुबारा और काबिल जैसे कई सारे फिल्मो में काम किया।

और फिर इनके पहली फिल्म के सफलता के बाद ऋतिक रोशन ने 20 दिसम्बर 2000 को सुज़ैन खान से शादी कर ली।

और फिर सुज़ैन से ऋतिक को दो बेटे भी हुए हलाकि ऋतिक और इनकी पत्नी सुज़ैन अब साथ नहीं है। क्योकि दोनों ने अपनी मर्जी से आपसी सहमती से 2014 में तलक ले लिया।

और दोस्तों जैसे की हम सभी को पता है की ऋतिक रोशन आपने बेहतरीन डांस की वजह से पुरे बॉलीवुड में पहचाने जाते है।

और इस टेलेंट को देखते हुए 2011 में जस्ट डांस के रियलिटी शो में जाज के तोर पर बुलाया गया। और इस तरह से अपना टेलीविजन डेब्यू किया।

साथ ही वह इस शो से छोटे पर्दे के सबसे मंहगे एक्टर बनकर सामने आये। और दोस्तों ऋतिक रोशन ने आपना खुद का क्लोथिंग ब्रांड भी शुरू किया।

जिसका नाम है HRX और आगर आखिर में बात करे तो आपकमिंग फिल्म की तो वो है सुपर 30 क्योंकि 2019 में रिलीज होने वाली है।

बरहाल दोस्तों मै अंत में यही कहना चाहूँगा की ऋतिक रोशन भले ही एक जाने मने प्रोडूसर के लड़के है लेकिन इन्होने सफलता आपनी मेहनत और संघर्स के दम पर पाई है। उम्मीद करता हु की दोस्तों ऋतिक रोशन की यह स्टोरी आपको जरुर पसंद आई होगी।    

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Posts

Advertisement
error: Content is protected !!