काजल अग्रवाल की जीवनी | Kajal Agarwal Biography In Hindi

0
71

दोस्तों आज मै इस ब्लॉग में बात करने जा रहा हु भारत की सबसे प्रसिध सेलिब्रेटी में से एक तमिल,तेलुगु और बॉलीवुड फिल्मो में छाप छोड़ चुकी है स्टार एक्ट्रेस काजोल अग्रवाल के बारे में, जिन्होंने अपनी शुरुअति एक बॉलीवुड से की थी लेकिन आगे चलकर वह ज्यादातर तमिल और तेलुगु फिल्मो में नजर आते रहे।

और दोस्तों काजल अग्रवाल एक ऐसी एक्ट्रेस है जिन्होंने बहुत ही कम समय में अपनी शानदार एक्टिंग के बलबूते लोगो के दिलो में जगह बनायीं है आगर एक बॉलीवुड के छोटे रोल को छोड़ दिया जाए तो इन्होने अपनी शुरुआत 2007 के तमिल फिल्म से की। और सिर्फ़ 11 साल के अन्दर ही इनकी फेंस फ्लोविंग करोडो में पहुच गयी।

तो दोस्तों आगर आप भी काजल अग्रवाल की अदाकारा के फैन है और इनकी पूरी लाइफ जरनी को जानना चाहते है तो इस ब्लॉग को पूरा पढ़े। तो दोस्तों इस कहानी की शुरुआत होती है 19 जून 1985 से जब मुंबई में रह रहे एक पंजाबी परिवार में काजल अग्रवाल का जन्म हुआ। और इनके पिता का नाम बिनय अग्रवाल है और इनका टेक्सटाइल का बिज़नस है और इनकी माँ का नाम सुमन अग्रवाल जो की अब काजल की बिज़नस मेनेजर है।

काजल अग्रवाल की एक बहन भी है जिनका नाम निशा अग्रवाल है और यह भी तमिल,तेलुगु और मलयालम फिल्मो में काम करती है। काजल अग्रवाल ने शुरुअति पढाई सेंट एंस हाई स्कूल से की इसके बाद इन्होने जय हिन्द कॉलेज में दाखिला लिया।

और यहाँ पर पढने के बाद इन्होने किशन चल चेला राम कॉलेज से मास मिडिया में ग्रेजुएशन की पढाई पूरी की। काजल के अन्दर शुरु से ही एक्टिंग का अलग ही जूनून था और इस जूनून को देखते हुए सिर्फ़ 19 साल की उम्र में इन्हें बॉलीवुड फिल्म में छोटा सा रोल मिल गया।
और इस फिल्म का नाम था “क्यू हो गे न” लेकिन आगे चलकर अपनी एक्टिंग को और भी इम्प्रूव किया और कुछ सालो के गेप के बाद उन्हें तमिल डायरेक्टर्स भारतीय रजा की फिल्म “बोमलातम” के लिए साइन का लिया। हलाकि यह फिल्म किसी वजह से रिलीज उस टाइम नहीं हो सका और इसे रिलीज किया गया 12 दिसम्बर 2008 को।

लेकिन इससे पहले काजल अग्रवाल ने “लक्ष्मी कल्यानम” की एक टॉलीवुड फिल्मो में काम कर लिया। और इस तरह से 15 फरवरी 2007 को रिलीज हुई यह फिल्म उनकी टॉलीवुड डेब्यू बनी। हलाकि इनका डेब्यू बॉक्स ऑफिस पर ज्यादा कामयाब नहीं हो सका था। लेकिन काजल अग्रवाल ने इस एक्टिंग से लोगो को आकर्षित किया।

और फिर इसी साल इन्होने फिर एक फिल्म में काम किया था जिसका नाम था “चंदा मामा” यह फिल्म पोजिटिव रिव्यू के साथ ओपेन हुई और बॉक्स ऑफिस पर काजल अग्रवाल की पहली हिट फिल्म भी बनी। और आगे चलकर पआझान्नी पावरुडू और अतिदिसता जैसे फिल्मे में काम किया।
लेकिन सही मायने में एक एक्ट्रेस के तोर पर सफल हुई 2009 में जब 30 जुलाई को रिलीज हुई एस.एस.राजमोली की फिल्म “मागधिरा” में अपनी शानदार एक्टिंग से लोगो का मनोरंजन किया और इस फिल्म के रिलीज होने के बाद से ही काजल अग्रवाल रातो रात स्टार बन गयी।

जरूर पढ़ें: अल्लू अर्जुन का जीवन परिचय

मगधिरा एक हाई बजट फिल्म थी यह फिल्म अभी तक सबसे ज्यदा कमाई करने वाली टॉलीवुड फिल्मो में शुमार की जाती है। मगधिरा फिल्म के बाद काजल अग्रवाल तेलुगु फिल्म की डायरेक्टर्स की पहली पसंद बन गयी है। और फिर 2 साल के बाद से मगधिरा फिल्म को “मविरान” तमिल नाम ने रिलीज किया गया और यह फिल्म भी बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट साबित हुई।

और फिर आगे भी अल्लू अर्जून,प्रभास और राम राव जूनियर की तरह ही बहुत सारे एक्टर्स के साथ काजल अग्रवाल की फिल्मे रिलीज होती रही। और साथ ही काजल अग्रवाल सिंघम,स्पेशल 26 और दो लफ्जो की कहानी की तरह ही हिंदी फिल्मो में अपनी एक्टिंग से लोगो को प्रभावित कर चुके है और इसके आलावा सेलेब्रेटी क्रिकेट लीग,लक्स,डाबर,पेनासोनिक की अम्बेसडर भी है। तो दोस्तों उम्मीद करता हु की यह कहानी काजल अग्रवाल की जरुर पसंद आई होगी तो आप अपने दोस्तों से शेयर जरुर करे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here