प्रभास का जीवन परिचय | Prabhas Biography In Hindi

0
100

दोस्तों तेलुगु सिनेमा को आज किसी ने विश्व स्तर पर पहचान दिलाई है तो वो है बाहुबली के एक्टर प्रभास और बाहुबली के ही डायरेक्टर एस.एस राजमोली ने ये दोनों के मेहनत के वजह से ही बाहुबली जैसे सुपरहिट फिल्म बन सकी, जिसने की विश्व स्तर पर बहुत सारे रिकार्ड्स बनाये।

लेकिन दोस्तों आज हम इस ब्लॉग में बात कर रहे है बाहुबली की तरह ही बहुत सुपरहिट फिल्मो में अपनी एक्टिंग का छाप छोड़ने वाले एक्टर प्रभास के बारे में क्योंकि तेलुगु फिल्म के वजह से साउथ इंडिया में तो पहले से ही फेमश थे। लेकिन बाहुबली के रिलीज होने के बाद से इनकी लोकप्रियता न केवल भारत में ही नहीं बल्कि पुरे विश्व में हो चुकी है।

हलाकि दोस्तों इस मुकाम पर पहुचने के लिए इन्होने बहुत ज्यदा मेहनत की और शुरुआती समय में इन्हें बहुत सारे असफलताओं का सामना करना पड़ा। लेकिन हर न मानते हुए इन्होने अपना पहचान बनाई तो चलिए दोस्तों प्रभास के पुरे सफर को जानने के लिए अब इनके लाइफ स्टोरी को शुरु से जानते है।

तो दोस्तों इस कहानी की शुरुआत होती है 23 अक्टूबर 1979 से जब उप्पलपति वेंकट सूर्यनारायण प्रभास राजू का जन्म हुआ तमिलनाडु के मद्रास शहर में और इनके पिता का नाम उप्पलपति सूर्यनारायण राजू है जो की एक फिल्म प्रोड्यूसर है और मा का नाम सीता कुमारी है इसके आलावा प्रभास के एक बड़े भाई प्रबोध और बड़ी बहन प्रगति है।

साथ ही इनके चाचा क्रिस्नाम राजू भी तेलुगु सिनेमा के जाने मने एक्टर रह चुके है। और शायद अपने एक्टर से ही प्रभास के अन्दर एक्टिंग का दिलचस्प पैदा हो गयी। प्रभास ने अपनी स्कूल की पढाई डी.एन.आर स्कूल से की और बचपन से ही एक्टिंग का काफी शोक था।
और इसलिए आगे चलकर श्री चेतन्य कॉलेज हैदराबाद से बी.टेक का डिग्री लेने के बाद एक्टिंग सिखने के लिए ड्रामा स्कूल चले गए। जहा पर इन्होने एक्टिंग की स्किल्स को और भी बेहतर किया और काफी कड़ी मेहनत के बाद वह अब एक एक्टर बनने के लिए तैयार हो चुके थे।

और साल 2002 में प्रभास इस्वरनाथ की फिल्म से टॉलीवुड में अपना डेब्यू किया। हलाकि दुर्भाग्य से यह फिल्म बहुत ही बुरी तरह से फ्लॉप हो गयी और इस फिल्म के तरह ही प्रभास की शुरुआती फिल्म जैसे राग्वेंद्र,वर्षम,अदमीरमुडू,चक्रम जैसे फिल्म फ्लॉप साबित हुई। और हर न मानते हुए प्रभास अपनी एक्टिंग को और इम्प्रूव करते रहे।

और आखिरकार 2005 में इसके टेलेंट को पहचाना फेमश डायरेक्टर राजामोली ने जिन्हें प्रभास को छत्रपति के लिए साइन कर लिया गया। और लोगो के उम्मीद के हीसाब से यह फिल्म बहुत ही बड़ी हिट साबित हुई और इस फिल्म में किए गए अपनी शानदार एक्टिंग से प्रभास बड़े बड़े डायरेक्टरो के नजरो में आने शुरु हो गए। और इस फिल्म के बाद प्रभास पोरान्मी,मुन्ना,एक निरंजन,डार्लिंग,मिस्टर परफेक्ट,रेबेल और मिर्ची जैसे बहुत सारे फिल्मो में नजर आते रहे।
और इनमे से ज्यदातर फिल्मे बॉक्स ऑफिस पर भी सफल रही और मिर्ची फिल्म के लिए प्रभास को नंदी आवार्ड फॉर बेस्ट एक्टर मिला। और दोस्तों अब टॉलीवुड एक्टर के तोर पर प्रभास एक स्टार बन चुके थे और जो भी लोग टॉलीवुड फिल्मे देखना पसंद करते थे उनमे भी ये काफी ज्यदा पॉपुलर हो चुके है।

जरूर पढ़ें: काजल अग्रवाल की जीवनी

हलाकि अभी भी बहुत सारी ऑडियंस ऐसी थी की हिंदी डब्ड टॉलीवुड फिल्म देखना पसंद नहीं करते लेकिन इस ऑडियंस में भी प्रभास ने पहचान बनाई और राजामोली के सुपरहिट फिल्म बाहुबली से। बाहुबली के दोनों पार्ट यानि बाहुबली दा बिगनिंग और बाहुबली दा कानक्लुजन अपनी एक्टिंग का छाप छोड़ने के लिए 5 सालो तक जीतोड़ मेहनत की।

और इस फिल्म की रिजल्ट तो हम सबके समने है इस फिल्म के बाद प्रभास भी न केवल भारत में ही नहीं बल्कि विश्व स्तर पर इन्होने पहचान बनायीं। और दोस्तों बाहुबली के आने के बाद से इतने फेमश हो चुके थे की लन्दन के मैडम तुसद्स म्यूजियम ने इनका स्टेच्यु बनाया गया। तो यह कहानी थी सुपरस्टार प्रभास की,तो दोस्तों उम्मीद है की आपको जरुर पसंद आई हो तो अपने दोस्तों से शेयर जरुर करे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here