Advertisement
Homeबायोग्राफीबॉलीवुड के बादशाह शाहरुख खान का सफर(Shahrukh Khan Biography In hindi)
Advertisement

Related Posts

Advertisement

बॉलीवुड के बादशाह शाहरुख खान का सफर(Shahrukh Khan Biography In hindi)

पूरा नामशाहरुख खान
जन्म 2 नवम्बर 1965 न्यू दिल्ली
मातालाथिफ फातिमा
पिताविरताज मुहमद
शिक्षाहंसराज कॉलेज दिल्ली
राष्ट्रीयताभारतीय
सम्मानपद्मा श्री
पत्नीगौरी खान
बच्चेआर्यन खान,अब्राहम खान,सुहाना ख़ान
व्यवसायएक्टर,फिल्म प्रोडूसर,टेलीविजन,बिज़नसमेन
वेबसाइटhttp://srkuniverse.com/
कुल आय600 मिलियन डॉलर

दोस्तों आज मै बताने वाला हु आपनी जबरदस्त एक्टिंग के बदोलत भारत के सिनेमा में दसको से राज करने वाले और लोगो में आपनी रोमांटिक भूमिका के लिए पहचाने जाने वाले मशहूर कलाकार शाहरुख खान की जिन्हें इन्हें काबिलियत के तोर पर किंग ऑफ़ बॉलीवुड भी कहा जाता है।

एक समय पर ये दिल्ली का आम लड़का इसको न तो कोई जनता था और न ही कोई इसको पहचानता था आज इतना मशहूर हो चूका है की केवल भारत में ही नहीं पूरी विश्व में इसकी एक्टिंग का आज भी लोग लोहा मानते है। और आगर फिल्मो की बात करे तो अभी तक 100 से भी ज्यदा फिल्मो पर काम कर चुके है।  

और अब तक 14 फिल्म फेयर आवार्ड से सम्मानित किया जा चूका है साथ में इनकी गिनती दुनिया के सभी अमीर एक्टर्स में की जाती है। तो चलिए दोस्तों कैसे एक आम लड़का आपनी जूनून और काबिलियत के दम पर आज करोडो लोगो के दिलो पर राज कर रहा है।

तो दोस्तों इस कहानी की शुरुवात होती है 2 नवम्बर 1965 से,जब दिल्ली के एक मुस्लिम परिवार में शाहरुख खान का जन्म हुआ। उनके पिताजी का नाम विरताज मुहमद था जो की एक स्वतंत्रता सेनानी थे। और उनकी मा लाथिफ फातिमा,वैसे तो भारत पाकिस्तान आलग होने से परिवार पेशावर में ही रहते थे। लेकिन जब 1948 मे विभाजन हुआ तो उनके पिता दिल्ली आकर बस गए।

शाहरुख खान का बचपन दिल्ली के राजेंद्र नागर इलाके में ही बिता जहा इनकी परिवार एक किराये के मकान में रहती थी। और इनके पिता रेसोरेंट चलाए करते थे शाहरुख खान आपनी शुरुवती पढाई सेंट कोलंबस स्कूल से की और पढाई में आछे होने की वजह से उन्होंने स्कूल का सबसे बड़ा आवार्ड सवार्ड आफ ओनर भी जीता था। लेकिन सिर्फ़ 16 वर्ष की उम्र में शाहरुख खान के जीवन में दुखद पल तब आया जब इनकी पिता की मृतुय हो गयी।

हलाकि इतनी कम उम्र में पिता को खोने के बाद शाहरुख खान के अन्दर परेसनियो से लड़ने का जज्बा कभी ख़त्म नहीं हुआ। इन्होने सन 1985 में हंसराज कॉलेज में दाखिला लिया जहा पर इन्होने एक थियेटर ग्रुप ज्वाइन किया और इस ग्रुप में रहते हुए बेर्री जॉन के अंतर्गत एक्ट सिखा। इसके बाद शाहरुख खान ने मास कम्युनिकेसन में मास्टर डिग्री लेने का फैसला किया लेकिन एक्टिंग के लिए पढाई बिछ में ही छोड़ना पड़ा।
और इसी बीच इन्होने नेसनाल स्कूल ऑफ़ ड्रामा में दाखिला लिया जहा यहाँ पर एक्टिंग के रोल सिखते रहे। शाहरुख खान का पहला रोल लेख टंडन टीबी सीरिज “दिल दरिया” में था लेकिन कुछ प्रोडक्शन हाउस में परेशानी के चलते यह टीबी सीरिज 1 साल बाद रिलीज हुआ। और इसी बिच शाहरुख खान ने फोजी नाम का एक सीरियल में कम कर चूका था तो इस तरह से इनका टिलीविज़न डेब्यू और ये नाम का सीरियल किया।

इसके बाद इन्होने जैसे सर्कस,वागले की दुनिया,इडियट और उम्मीद में कम किया और उस समय में शाहरुख खान ने किस तरह से एक्टिंग की थी उनकी तुलना लोगो ने लिजेंड्री दिलीप कुमार से तुलना करना शुरु कर दी। और फिर 1991 में आपनी प्रेमिका गोरी के साथ शादी कर ली,गोरी और शाहरुख खान के बीच पिछले कई सालो से प्रेम सबंध थे।

लेकिन बहुत सरे रूकावट और परेशानी का सामना करने के बाद यह रिश्ता संभव हो पाया था। शाहरुख खान का अभी एक्टिंग करियर शुरु ही हुआ था की और इन्होने एक बड़ा सदमा लगा। जब 1991 में उन्हें आपनी मा को भी खो दिया और फिर इस दुःख को भुलाने के लिए मुंबई चले आये। और आपने आप को एक्टिंग में पूरी तरह से झोक दिया, मुंबई आकर यहाँ इसका किस्मत का भी साथ दिया।

और उनकी एक्टिंग को देखते हुए बहुत सारे फिलो में काम करने का मौका भी मिला जैसे की सबसे पहले उन्होंने हेमा मालिनी के डायरेक्शन में “दिल आसमा है” फिल्म में साईंन किया। यह हेमा जी का डायरेक्टर के तोर पर डेब्यू फिल्म था 1992 में रिलीज हुई “दीवाना” शाहरुख खान की डेब्यू फिल्म बन गई। इस फिल्म में उनके साथ उस समय के स्टार एक्टर ऋषि कपूर ने भी काम किया था और “दीवाना” बॉक्स ऑफिस पर हिट साबित हो गयी थी।

और इनको शाहरुख खान के बॉलीवुड करियर का एक आछा शुरुवात हुआ इस फिल्म के लिए इन्होने फिल्म फेयर का “बेस्ट मेल डेब्यू” आवार्ड से नवाजा गया इसके आलावा 1992 में इनकी और तीन  फिल्मे आ गई चमत्कार,दिल आसना है और राजू बन गया जेनटल मेन,1993 में शाहरुख खान ने आपने लीग से हटकर रोल किया।

और इसी साल साल उनकी दो फिल्मे डर और बाजीगर आई इसमें की वे हीरो की जगह विलेन की भूमिका निभाते नजर आये। और लोगो ने भी इनकी एक्टिंग की खूब सराहना की,बाजीगर ने उनकी अलग किरदार और जबरदस्त एक्टिंग की वजह से फिल्म फेयर आवार्ड फॉर बेस्ट आवार्ड भी मिला। और इस तरह से बॉलीवुड में कदम रखकर सिर्फ़ 2 साल में शाहरुख खान ने आपनी एक्टिंग के जरिये पुरे दुनिया में लोहा मनवाया।
और आगे भी कई सरे फिल्मो में विलेन का किरदार निभाते नजर आये दोस्तों कोई भी एक्टर आपनी शुरुवती समय में विलेन का किरादर करने से बचता है। लेकिन वो हर चलेंजिंग रोल को करके प्रसिध होते जा रहे थे,सन 1995 में शाहरुख खान ने कुल 7 फिल्मो में काम किया जिससे उनकी सफल फिल्म “कारण-अर्जून” और “दिल वाले दुल्हनिया ले जायेंगे”यह एक उस समय की हिट फिल भी थी जिससे की शाहरुख खान को लोगो ने खूब सराहा गया था और साथ ही बॉलीवुड इंडस्ट्री में इसको पहचान बनाने में ज्यदा समय का वक्त भी नहीं लगा।   

इस फिल्म ने कुल 10 फिल्म फेयर आवार्ड जीते थे जिसमे की शाहरुख खान को दूसरी बार “बेस्ट एक्टर” का आवार्ड मिला। इसके बाद से ही शाहरुख खान ने अलग अलग फिल्मो में अहम् भूमिका निभाई और 1998 में कारण जोहर के डायरेक्शन के लिए उन्हें फिर से एक्टर का आवार्ड मिला।

और इस तरह से शाहरुख खान ने अभी तक 14 फिल्म फेयर आवार्ड जीत चुके है और आगे भी शाहरुख खान आगे की फिल्म में काम करते रहे। कुछ सुपरहिट रही तो कुछ फ्लॉप भी रही सन 1999 में शाहरुख खान ने जूही चावला के साथ एक प्रोडक्शन हाउस खोला और इस तरह से वे एक प्रोडूसर भी बने।

उनके प्रोडक्शन हाउस द्वारा बनाई गई पहली “फिल्म फिर भी दिल है हिन्दुस्तानी” बाक्स ऑफिस पर फेल साबित हुई। इसके बाद सन 2000 में शाहरुख खान के प्रोडक्शन हाउस की दूसरी फिल्म “अशोका” भी बाक्स ऑफिस पर बुरी तरह से पिट गई और एक्टर बतोर सफल रहे शाहरुख खान प्रोडूसर के तोर पर नाकाम रहे।

तभी 2001 में “सक्ति दा पॉवर” की शूटिंग के दोरान पीठ में चोट लग गयी और उसे इंजरी के वजह से काफी दर्द रहने लगा था। और जब उसका इलाज भारत में न हो सका तो वे लन्दन में जाकर इलाज करवाया। और फिर भारत वापसी के बाद कम से कम दबाव में काम करने का निर्णय लिया।

इसी दोर में मोहबते,कभी खुशी कभी गाम और देवदास जैसी फिल्म इन्हें कई सारे हिट फिल्मे दी। और आगे भी इन्होने स्वदेश,वीर जरा,पहेली,डॉन,चक दे इंडिया,मै नेम इज खान,रावण,चेन्नई एक्सप्रेस और हैप्पी न्यू इयर की तरह कई हिट फिल्मे दी। और अपनी एक्टिंग का लोहा मनवाया,शाहरुख खान एक एक्टर होने के साथ साथ बिज़नसमेन भी है।

वे रेड चिल्लीज इंटरटेनमेंट प्रोडक्शन कंपनी के मलिक भी है साथ में जूही चावला और उनके पति के साथ पटनरर्शिप में आईपीएल की टीम कोलकत्ता नाईटराइडर्स ओनर और फिलहाल शाहरुख खान की कूल सम्पति लगभाग 5000 करोड़ के आस पास है। इस वजह से दुनिया के सबसे आमीर एक्टरो में गिने जाते। उम्मीद है की बॉलीवुड के किंग शाहरुख खान की यह कहानी जरुर पसंद आई होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Advertisement

Latest Posts

Advertisement