Advertisement
Homeबायोग्राफीवरुण धवन की जीवनी | Varun Dhawan Biography In Hindi
Advertisement

Related Posts

Advertisement

वरुण धवन की जीवनी | Varun Dhawan Biography In Hindi

दोस्तों बॉलीवुड में सफल हिने के लिए हर फ्राइडे कोई न कोई कोशिश कर रहा होता है। लेकिन सफलता हर किसी को नहीं मिलती।

सफलता तो सिर्फ उसी को मिलती है जो मेंहनत का मूल्य जनता हो आज की हमारी कहानी भी ऐसा ही युवा एक्टर के बारे में बताने वाला हु।

जिसने की आपने टेलेंट और मेंहनत के दम पर न केवल देश में बल्कि दुनिया भर में आपना अलग ही नाम बना लिया है।

जी हां दोस्तों हम बात कर रहे है भारतीय एक्टर वरुण धवन के बारे में,जो की आज के समय के सबसे लोकप्रिय एक्टर्स में से एक है।

और इनकी फेन फ्लोइंग लाखो में नहीं बल्कि करोडो में है और इसी का नतीजा है की इनके दवारा किए गए अभी तक के सभी फिल्मे सफल रही।

हलाकि दोस्तों वरुण धवन का जन्म भले ही एक फिल्म जगत से जुड़े हुए परिवार में हुआ। लेकिन इन्होने यह मुकाम अपने मेंहनत और टेलेंट के दम पर पाई।

तो इस ब्लॉग में पूरा विस्तार से हम वरुण धवन की पूरी लाइफ स्टोरी को थोडा करीब से जानने की कोशिश करते है।

तो दोस्तों इस कहानी की शुरुवात होती है 24 अप्रैल 1987 से जो सपनो के शहर मुंबई में वरुण धवन का जन्म हुआ।

इनके पिता का नाम डेविड धवन है जो की बिलकुल इंडस्ट्री के जाने मने डायरेक्टर है और इनकी माँ का नाम करुणा है।

जिसके आलावा इनके परिवार में एक बड़े भाई भी है जिनका नाम रोहित धवन है और वो भी एक डायरेक्टर और प्रोडूसर के तोर पर ही काम करते है।

और चुकी वरुण धवन का पूरा परिवार फिल्म इंडस्ट्री स ही जुड़ा हुआ है। इसलिए इन्होने भी बचपन से ही एक एक्टर बनने का सपना देखा।

और फिर एच.आर कॉलेज ऑफ़ कॉमर्स एंड इकोनोमी से पढाई करने के बाद ये यूके चले गए। और वहा पर इन्होने नोटीइंगम ट्रेंट यूनिवर्सिटी से बिज़नस मैनेजमेंट की डिग्री हासिल की।

हलाकि इस बीच पढाई के साथ साथ वह एक्टिंग के गुण भी सीखते रहे और फिर यूके से वापस लोटने के बाद वरुण धवन ने फिल्मो में एक एक्टर के तोर पर एंट्री लेने से पहले असिस्टेंट डायरेक्टर का काम किया।

जिसकी मदद से वह एक्टिंग को और भी करीब से जन सके। पर इन्होने सबसे पहले मै नेम इज खान फिल्म में कारण जोहर के साथ असिस्टेंट के तोर पर काम किया था।

साथ ही बैरी जॉन के एक्टिंग स्कूल से ही इन्होने एक्टिंग सीखकर खुद को एक बेहतर कलाकर बनाया।

हलाकि दोस्तों आपको जानकर हेरानी होगी की वरुण धवन के पिता कभी भी नहीं चाहते थे की वरुण एक एक्टर बने।

बल्कि इन्होने वरुण से एक एक्टर बनने का सपना नहीं देखा था लेकिन वरुण धवन ने जो बचपन से ही फिल्म इंडस्ट्री में आने का मन बना लिया था।

इसलिए वह आपने पिता की चाहत पूरा नहीं कर सके। और अब अस्सिटेंट डायरेक्टर के तोर पर काम करने के बाद वरुण धवन फिल्मो में आने के लिए तेयार हो चुके थे।

और फिर पहली बार कारण जोहर ने ही 2012 में स्टूडेंट ऑफ द ईयर फिल्म के लिए साइन किया। और इस फिल्म में वरुण धवन आलिया भट्ट और सिद्धार्थ मल्होत्रा तीनो डेब्यू कर रहे थे।

और ऐसे भी सभी के नए चेहरे होने की वजह से फिल्म सफल होने का कोई अता पता नहीं था। लेकिन इसके बावजूद रिलीज होने के बाद से यह फिल्म सुपरहिट साबित हुई।

और फिर फर्स्ट इम्प्रैशन लाजवाब होने की वजह से इस फिल्म ने तो वरुण धवन और इनके सभी कलाकर के करियर को नयी उचाईयो तक ले जाने का काम किया।

हलाकि वरुण धवन की अभी भी सोलो फिल्म आने बाकि थे और फिर इनकी पहली सोलो फिल आई 2014 में जिसका नाम था मै तेरा हीरो।

और इस फिल्म में भी हिट के साथ ही यह बता दिया की वरुण धवन अब नए जेनरेशन के स्टार बन चुके है।

और फिर इसके बाद से वरुण धवन ने हम्प्टी शर्मा की दुल्हनियां,बदलापुर,ABCD 2,दिलवाले,डिशुम,बद्रीनाथ की दुल्हनिया और जुडवा 2 जैसे कई और भी सफल फिल्म में काम किया।

और अभी हल ही में रिलीज हुई फिल्म सुई धागा में भी इन्होने शानदार एक्टिंग का लोहा मनवाया। और दोस्तों वरुण धवन सिर्फ एक्टिंग तक ही सिमित नहीं है।

बल्कि वह कई सारे अवार्ड शो को भी हिट कर चुके है और साल 2014 के बाद से ही इन्हें फ़ोर्ब्स इंडिया की टॉप सिलेब्रेटी के लिस्ट में भी शामिल किया जाता रहा है।

और साथ ही इनके शानदार परफोर्मेंस को देखते हुए इन्हें कई सारे अवार्ड से भी नवाजा जा चूका है और अगर वरुण धवन की आपकमिंग फिल्म की बात करे तो वो है कलंक जो की 2019 में रिलीज होने वाली है।

बरहाल मै अंत में यही कहना चाहता हु की वरुण धवन भले ही एक सफल डायरेक्टर के वहा पैदा हुए लेकिन इन्होने अपने करियर की कामयाबी खुद के मेहनत और टेलेंट के दम पर पाई। उम्मीद करते है की दोस्तों आगे भी हमें ये शानदार फिल्मो से इंटरटेन करते रहेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Advertisement

Latest Posts

Advertisement